• Oct 10, 2017  |  [ View 234 ]  | 

    दुल्हन बन के मेरी जब वो मेरी बाँहों में आयी थी सेज सजी थी फूलों की पर उस ने महकाई थी





  • Shayari Category 706



    ☰ View Category
    × Close Category