Shandar Shayari ( 24 )


  • Oct 10, 2017   |   Review 263   |  

    नियम कुदरत का बहुत ही ख़ास है दरख़्त पे हवा है या दरख़्त हवा के पास है गुरुर ना हो अपनी शख्शियत का बिन हवा दरख़्त नही रिश्ता दोनो का ख़ास है

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 165   |  

    मोहब्बत तो आज भी उतनी ही है तुमसे, ये बात और है की उम्मीद कुछ भी नहीं !! तुम नाराज हो जाओ, रूठो या खफा हो जाओ, पर बात इतनी भी ना बिगाड़ो की जुदा हो जाओ !!

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 198   |  

    लोग कहते है की दुःख बुरा होता है .. जब आता है तब रुला देता है .. लेकिन दुःख जब भी आता है… अपनों की पहचान करा देता है…

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 149   |  

    मैंने जिन्दगी सेपूछा सबको इतना दर्द क्यों देतीहो जिन्दगी ने हंसकरजवाबदिया मैं तो सबको ख़ुशीही देतीहुँ पर एक की ख़ुशी दुसरे का दर्द बन जातीहै

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 411   |  

    बहुत मिलेंगे हसीन चेहरे इस दुनिया के बाजार में, लेकिन, वो मुक़द्दर से मिलता है जिसका ‘दिल’ खूबसूरत होता है…….

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 335   |  

    धड़कनों में बसते हैं कुछ लोग, जबां पे नाम लाना ज़िनका जरूरी नही होता !! धडकनों की यही तो ख़ास बात हैं. . . भरे बाज़ार में भी किसी एक को सुनाई देती हैं. .

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 201   |  

    इंसान इस एक कारण से अकेला हो जाता है अपनो को छोडने की सलाह गैरों से लेता है

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 152   |  

    साझेदारी करो तो …. किसी के दर्द की करो…. क्योंकि ख़ुशियों के …. दावेदार तो बहुत हैं ….

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 415   |  

    कुछ लोगों के साथ सिर्फ वक्त बिताने से ही, सबकुछ ठीक हो जाता है…

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 472   |  

    जब आप किसी से भी गहरा संवाद करते है तो जाहिर सी बात है वो आपके जेहन में बेशुमार शामिल हो जाता है.. जरूरी नहीं हर बार वो प्यार ही हो..

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 164   |  

    किसी को अपना बनाओ तो “दिल” से जुबान” से नहीं और किसी पर गुस्सा करो* तो जुबान से ….. *“दिल” से नही

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 183   |  

    खामोशियां कर दें बयां तो अलग बात है.. कुछ दर्द ऐसे भी हैं जो लफ्जों में उतारे नहीं जाते..

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 170   |  

    शिकवा करने गये थे और .. . इबाबत सी हो गयी.. . तुझे भुलने की जिद थी.. . मगर तेरी आदत हो गयी…”

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 168   |  

    पत्थर की दुनिया जज़्बात नही समझती दिल में क्या है वो बात नही समझती तन्हा तो चाँद भी सितारो के बीच में है पर चाँद का दर्द वो रात नही समझती

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 137   |  

    Teri dosti ki aadat si pad gayi hai mujhe, Kuch der tere sath chalana baki hai. Shamshan mein jalta chodkar mat jana, Warna ruh kahegi k ruk ja, Abhi tere yaar ka dil jalna baki hai.

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 337   |  

    Kisi roj yaad na kar pau to khudgarj na samjh lena, Darasl choti si iss umar mai presaniya bhut hai, Main bhoola nhi hu kisi ko mere bahot achhe dost hai zmane me, Bs thodi zindagi uljhi pdi hai do waqt ki roti kmane me.

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 143   |  

    Haqiqat Mohabbat Ki Judaai Hoti Hai, Kabhi Kabhi Pyar Main Bewafai Hoti Hai, Humari Taraf Haath Badhaa Kar Toh Dekh, Dosti Main Kitni Sachhai Hoti Hai.

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 490   |  

    Aapki hasi bahut pyaari lagti hai, Aapki har khushi hamein hamari lagti hai, Kabhi door na karna khud se humein, Aapki dosti humein jaan se bhi pyaari lagti hai.

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 427   |  

    दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करू, आप भूल भी जाओ तो मे हर पल याद करू, खुदा ने बस इतना सिखाया हे मुझे कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करू..

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 183   |  

    दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे, हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे, कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो, वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे|

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 352   |  

    Baat Wfaao Kee Hoti To Kabhi Na Haarate Ham Khel Naseebon Ka Tha Bhala Use Kaise Haraate

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 171   |  

    दम नहीं किसी में,जो मिटा सके हमारी हस्ती को जंग तलवारो को लगती है,नेक इरादो को नहीं

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 169   |  

    प्यार तो जिंदगी का एक अफसाना है, इसका अपना ही एक तराना है, सबको मालूम है कि मिलेंगे सिर्फ आंसू पर न जाने क्यों, दुनियां में हर कोई इसका दीवाना है.

    Share With
  • Oct 10, 2017   |   Review 186   |  

    Hum Bhi Chahenge Tujhe Heer Ki Tarha, Rab Se Mangenge Tujhe Kisi Faqir Ki Tarha, Rang Na Laye Agar Humari Yeh Duaye, To Phir Hum Reh Jaayenge Be-Rang Kisi Tasveer Ki Tarha…!!

    Share With


Shayari Category 706



☰ View Category
× Close Category